Wednesday, December 24, 2008

बक्षाली पाण्डुलिपि में उच्चस्तरीय गणित के सूत्र है

बक्षाली पाण्डुलिपि : पेच्चावर के पास प्रसिद्धि पुरातत्व स्थान तक्षच्चिला से सत्तर किलोमीटर दूर बक्षाली गाँव में १८८१ में अप्रत्याच्चित तथ्यों का पता चला। यह शारदा स्क्रप्ट में तथा प्राकृति की गाथा डाइलेक्ट में भोजपत्र पर लिखी पाण्डुलिपि थी।

यह पाण्डुलिपि कुच्चान काल में ईच्चा से २०० वर्ष पूर्व भारत भूभाग पर प्रचलित थी।इस पाण्डुलिपि में उच्चस्तरीय गणित के सूत्र है जिसमें क्वाड्रटिक समीकरण, किसी नम्बर जो पूर्ण वर्ग न हो का वर्गमूल ज्ञात करना, गणितीय ज्यामितीय श्रेणियाँ शामिल है। अतः बक्षाली पाण्डुलिपि भारत में दो हजार दो सौ वर्ष पूर्व में उच्च अंक गणितीय तथा बीज गणितीय ज्ञान का प्रमाण प्रस्तुत करती है।

0 Comments: